भारत के खिलाफ मिली जीत का जश्न मनाने के लिए बाबर आजम करने जा रहे हैं एक नेक काम - क्रिकट्रैकर हिंदी

भारत के खिलाफ मिली जीत का जश्न मनाने के लिए बाबर आजम करने जा रहे हैं एक नेक काम

भारत के खिलाफ उस मैच में पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने खेली थी शानदार पारी।

Babar Azam
Babar Azam. (Photo by PHILL MAGAKOE/AFP via Getty Images)

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में भारत के खिलाफ मैच में पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने शानदार पारी खेलकर ऐतिहासिक जीत दर्ज करने में बड़ी भूमिका निभाई थी। इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ जब किसी वर्ल्ड कप में भारत को पड़ोसी मुल्क (पाकिस्तान) के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। इस जीत का जश्न मनाने के लिए पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम ने एक नेक कदम उठाया है।

बाबर आजम ने पिता को समर्पित एक कदम उठाया

बाबर आजम ने शिक्षा प्लेटफॉर्म नून के साथ मिलकर 250 योग्य छात्रों को पढ़ाने का फैसला किया है। 27 वर्षीय आजम ने कहा कि यह पहल उनके पिता मुहम्मद आजम और Saya कॉर्पोरेशन को समर्पित है। साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि इस प्लेटफॉर्म के लिए उन्होंने 2 मिलियन रूपए का फंड एकत्रित किया है। इस खबर की पुष्टि करते हुए बाबर आजम ने ट्वीट किया, “मैं अग्रणी एड-टेक प्लेटफॉर्म नून के माध्यम से 250 योग्य छात्रों को शिक्षित करके जश्न मनाना चाहता हूं। यह मेरे पिता और प्रेरणास्रोत मुहम्मद आजम और Saya कॉर्पोरेशन को समर्पित है।”

यहां देखिये बाबर आजम का ट्वीट

गौरतलब है कि बाबर आजम ने भारत के खिलाफ नाबाद 68 रनों की नाबाद पारी खेली थी। उनके अलावा दूसरे ओपनर मोहम्मद रिजवान ने भी 79 रनों की नाबाद पारी खेली थी। इन दोनों खिलाड़ियों की शानदार पारियों की बदौलत पाकिस्तान ने 17.5 ओवरों में ही मुकाबले को 10 विकेट से अपने नाम कर लिया। मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने पाकिस्तान के सामने 152 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसमें भारतीय कप्तान विराट कोहली की शानदार अर्धशतकीय पारी शामिल थी।

पाकिस्तान के सबसे बेहतरीन क्रिकेटरों में से एक हैं बाबर आजम

बाबर आजम टी-20 क्रिकेट में पाकिस्तान के लिए खेलने वाले सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक हैं। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने इस फॉर्मेट में पाकिस्तान के लिए तीसरे सबसे अधिक रन बनाए हैं। आजम ने अब तक कुल 62 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 48.34 की औसत से 2272 रन बनाए हैं। इसके अलावा उन्होंने 35 टेस्ट और 83 एकदिवसीय मैचों में भी पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व किया है।