in

मेलबर्न टेस्ट में कोहली, रोहित, रहाणे समेत भारत के सात बल्लेबाजों पर भारी पड़े पुजारा

मेलबर्न में छा गए पुजारा

मेलबर्न की मुश्किल पिच पर जहां अन्य बल्लेबाज टिक ही नहीं पा रहे थे, वहीं पुजारा ने 106 रनों की बेहतरीन शातकीय पारी खेलकर टीम को बेहद मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच में चौथे दिन का खेल खत्म होने तक 8 विकेट पर 258 रन बना लिए थे। टीम इंडिया मैच जीतने से महज दो विकेट दूर थी।

पुजारा के इस संयमभरे प्रदर्शन की बदौलत भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट में पहली पारी में सात विकेट 443 रन बनाकर घोषित कर दी। जवाब में ऑस्ट्रेलियाई पारी भी मा‍त्र 151 रनों पर सिमट गई। इस तरह भारत ने पहली पारी के आधार पर 292 रनों की विशाल बढ़त हासिल की।

दूसरी पारी में भारतीय बल्लेबाजों का प्रदर्शन बेहद खराब रहा और टीम ने 106 रन बनाकर 8 विकेट गंवा दिए। इस पारी में कप्तान विराट कोहली (0), अजिंक्य रहाणे (1), रोहित शर्मा (5), रविंद्र जडेजा हनुमा विहारी (13), ऋषभ पंत (33) रन ही बना सके। स्वयं पुजारा भी इस पारी में अपना खाता तक नहीं खोल पाए।

इतने रन तो अकेले पुजारा ने पहली पारी में बना लिए थे। इस तरह देखा जाए तो मेलबोर्न में टीम इंडिया की जो मजबूत स्थिति नजर आ रही है उसका श्रेय केवल पुजारा को जाता है। उनके अलावा केवल मयंक अग्रवाल ही दोनों पारियों में कुछ बेहतर खेल दिखा सके। उन्होंने पहली पारी में 78 रन बनाए जबकि दूसरी पारी में उन्होंने 42 रन बनाए।

उम्मीद है कि इस पारी के बाद पुजारा को लेकर सभी की सारी शिकायतें दूर हो गई होगी। वह कोहली समेत आठ बल्लेबाजों पर अकेले ही भारी पड़ गए।

रिषभ पंत ने इस तरह लिया ऑस्ट्रेलियाई कप्तान से अपना बदला, लपक लिया कैच

Russel with team

KKR की जान है यह खिलाड़ी, टीम किसी भी कीमत पर हर बार रिटेन करने को रहती है तैयार