श्रेयस अय्यर के कप्तान बनने के बाद इस आईपीएल सीजन में होरोस्कोप के अनुसार इस टीम के जीतने के सितारे हुए अधिक मजबूत - क्रिकट्रैकर हिंदी
हिंदी

श्रेयस अय्यर के कप्तान बनने के बाद इस आईपीएल सीजन में होरोस्कोप के अनुसार इस टीम के जीतने के सितारे हुए अधिक मजबूत

Mumbai Indians’ celebrate fall of MS Dhoni’s wicket. (Photo by IANS)
Mumbai Indians’ celebrate fall of MS Dhoni’s wicket. (Photo by IANS)

इंडियन प्रीमियर लीगे के 11 वें सीजन में अभी तक 27 मैच खेले जा चुके है जिसमें काफी कुछ तस्वीर टीमों को लेकर साफ़ हो चुकी है कि कौन सी टीम इस सीजन में ट्राफी जीतने के लिए सबसे अधिक दावेदार मानी जा सकती है किसका ये आईपीएल सीजन खराब जाने वाला है लेकिन इस सीजन के लिए भविष्यवाणी की भी मदद ली गयीं.

तीन बार इस आईपीएल ट्राफी को जीतने वाली मुंबई इंडियंस की टीम आईपीएल में हमेशा धीमी शुरुआत करती है लेकिन इसके अब्द ये टीम टूर्नामेंट के अंत तक आते अपनी रफ़्तार को पकड लेती है. लेकिन इस आईपीएल सीजन की भविष्यवाणी करने वाले साइंटिफिक एस्ट्रोलोजर ग्रीनस्टोन लोबो ने स्पोर्ट्सकीड़ा में छपे अपने एक लेख में कहा कि रोहित शर्मा की टीम के लिए ये काफी बड़ा काम होगा.

वहीँ इस समय पॉइंट्स टेबल पर 7 वें स्थान प्र काबिज और अभी भी अपनी प्लेऑफ की उम्मीद को लेकर आगे बढने वाली विराट कोहली की टीम आरसीबी ने 7 मैच में से सिर्फ 2 में जीत हासिल की है और वे इस सीजन में पहली बार इस ट्राफी को उठाने के लिए बेहद उत्सुक है लेकिन एस्ट्रोलोजी के अनुसार आरसीबी की टीम ने अभी तक अपनी सबसे अच्छी अंतिम एकादश नहीं खिलाई है.

इसके अलावा किंग्स इलेवन पंजाब की टीम में काफी अच्छी है और उनका कॉम्बिनेशन भी सही चल रहा है इसलिए वे अभी भी इस टूर्नामेंट को जीत सकते है क्योंकिं उनकी टीम के सितारे एस्ट्रोलोजी के अनुसार काफी शानदार चल रहे है.

अय्यर के कप्ताब बनने से क्या पड़ा फर्क

दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम ने सीजन के बीच में ही गौतम गंभीर के कप्तानी के पद से हटने के बाद उनकी जगह पर श्रेयस अय्यर को टीम का कप्तान बनाया है और इस कारण टीम के सितारों में क्या फर्क पड़ा है यदि इस तरफ नजर डाली जायें तो उनका होरोस्कोप काफी अच्छा है और इससे टीम के लिए अब आगे का सीजन शानदार हो सकता है, लेकिन अय्यर के कप्तान बनने से सनराइजर्स हैदराबाद टीम के कप्तान केन विलियम्सन अब इस सीजन में सबसे कम उम्र के कप्तान नहीं रहे इस कारण उनका इस टूर्नामेंट को जीतने के चांस काफी अधिक बढ़ गएँ है.