in

Good

दक्षिण अफ्रीका बनाम भारत पहले टेस्ट के दूसरे दिन अफ़्रीकी टीम ने मजबूत की अपनी पकड लेकिन हार्दिक पंड्या के नाम रहा दूसरा दिन

टीम का स्कोर 92 रन पर 7 विकेट हो गया था, इसके बाद हार्दिक पंड्या ने भुवनेश्वर कुमार के साथ मिलकर आठवें विकेट के लिए

Hardik Pandya fifty
Hardik Pandya celebrates his fifty. (Photo Source: Twitter)

दक्षिण अफ्रीका बनाम भारत के बीच केपटाउन में के न्यूलैंड्स मैदान में खेला जा रहा तीन टेस्ट मैच की सीरीज का पहले टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका की टीम ने अपनी पकड मजबूत कर ली है और दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक दक्षिण अफ्रीका की टीम ने 65 रन 2 विकेट के नुकसान पर बना लिए थे और उन्होंने भारत पर 142 रन की बढ़त ली थी.

पहले सेशन में नहीं बनने दिए रन

भारतीय टीम ने अपने पहले दिन के स्कोर 28 रन पर तीन विकेट से आगे खेलना शुरू किया जिसके बाद सुबह के पहले घंटे में पुजारा और रोहित शर्मा ने संभलकर खेलना शुरू किया लेकिन कुछ समय के बाद रबादा ने रोहित शर्मा को 11 के स्कोर पर एलबीडबल्यू आउट करके दूसरे दिन पहला झटका दिया जिसके बाद लंच तक भारतीय टीम ने 76 रन पर चार विकेट गवां दिए थे और उस समय पुजारा के साथ अश्विन क्रीज पर मौजूद थे.

हार्दिक और भुवी ने मिलकर कराई वापसी

भारतीय टीम ने जैसे ही दूसरे सेशन में खेलना शुरू किया तो टीम ने जल्दी विकेट खोना शुरू कर दिया और एक समय टीम का स्कोर 92 रन पर 7 विकेट हो गया था, इसके बाद हार्दिक पंड्या ने भुवनेश्वर कुमार के साथ मिलकर आठवें विकेट के लिए 99 रन की साझेदारी करके भारतीय टीम को एक बार फिर से इस मैच वापस ले आयें. दूसरे सेशन का खेल जब खत्म हुआ तो भारतीय टीम ने 185 रन बना लिए थे 7 विकेट के नुकसान पर.

अफ्रीका ने की वापसी लेकिन हार्दिक ने दिए झटके

दूसरे दिन का आखिरी सेशन जैसे ही शुरू हुआ तो अफ़्रीकी गेंदबाजों ने भारतीय टीम को समेटने में अधिक देर नहीं लगायीं और 209 रन पर भारत को आलआउट कर दिया. भारत की तरफ से पहली पारी में हार्दिक पंड्या ने सबसे अधिक 93 रन की पारी खेली.

इसके बाद अफ़्रीकी ओपनिंग बल्लबाजो ने पहली पारी की गलती को सुधारते हुए टीम को संभली हुई शुरुआत दी लेकिन इसके बाद आज के दिन के पहले बल्ले से अपना कमाल दिखाने वाले हार्दिक ने जल्दी – जल्दी दोनों ही ओपनिंग बल्लेबाजों को आउट कर भारतीय टीम को इस मैच में पिछड़ने नहीं दिया. दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक अफ्रीका ने अपने 2 विकेट 65 रन पर खो दिए थे और भारत के ऊपर 142 रन की बढ़त बना ली थी.

Dale Benkenstein

तीन विकेट गंवाने के बाद कैब पकड़कर होटल लौट जाना चाहते थे दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजी कोच

Mason Crane

टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया ने 24 साल बाद रचा इतिहास