आखिर क्यों लियम लिविंगस्टन टी-10 क्रिकेट की इतनी तारीफ कर रहे हैं ? - क्रिकट्रैकर हिंदी

आखिर क्यों लियम लिविंगस्टन टी-10 क्रिकेट की इतनी तारीफ कर रहे हैं ?

टी-10 फॉर्मेट खेलने से टी-20 क्रिकेट में बहुत सुधार आएगा: लियम लिविंगस्टन

Liam Livingstone
Liam Livingstone. (Photo by Daniel Pockett/Getty Images)

टीम अबू धाबी के कप्तान लियम लिविंगस्टन ने अबू धाबी टी-10 को इस खेल का “सबसे सहज प्रारूप” बताया है और उनका मानना ​​है कि यह क्रिकेट के अन्य फॉर्मेट के सुधार लाने में सहायता कर सकता है। लिविंगस्टन टीम अबू धाबी के लिए अब तक बल्ले और गेंद से शानदार प्रदर्शन किया है।

इस सीजन केवल रोवमैन पॉवेल (294) ही एक मात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जो ऑलराउंडर लियम लिविंगस्टन (259) की तुलना में अधिक रन बनाए हैं। उन्होंने अपनी नौ पारियों में 28 गगनचुम्बी छक्के लगाए हैं और गेंद के साथ सात विकेट भी लिए हैं। टीम अबू धाबी अपने पहले नौ मैचों के बाद तालिका में शीर्ष पर है और लिविंगस्टन इस टूर्नामेंट का पूरा आनंद लेते हुए नजर आ रहे हैं।

इसी बीच लिविंगस्टन ने इस फॉर्मेट की जमकर तारीफ की है। उन्होंने कहा कि, “यह निश्चित रूप से खेल का सबसे सहज प्रारूप है। आप जो चाहें योजना बना सकते हैं लेकिन आप नहीं जानते कि क्या आ रहा है और मुझे लगता है कि यह इस प्रारूप के बारे में अच्छी बात है कि इसमें खेलना वाकई सुखद है।”

उन्होंने आगे कहा कि, “यह बहुत अच्छा है कि लोग इसके पीछे पड़ रहे हैं और निश्चित रूप से खेल में इसके लिए एक बड़ा भविष्य है। मुझे लगता है कि टी-10 क्रिकेट वास्तव में टी-20 क्रिकेट में सुधार लाएगा और इसे थोड़ा और रोमांचक बना देगा। हम इस प्रारूप में टीमों को दो या तीन विकेट पर 130-140 रन बनाते हुए देख रहे हैं और यदि आप इसे टी-20 क्रिकेट में लेना शुरू करते हैं, तो हम 200-220 से अधिक स्कोर देखना शुरू कर देंगे।”

अपनी टीम को लेकर लियम लिविंगस्टन ने क्या कहा ?

टीम अबू धाबी पहले अबू धाबी टी-10 खिताब की तलाश में आगे बढ़ती हुई दिख रही है। उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि हमने कुछ रोमांचक क्रिकेट खेला है। हमने हमेशासही क्रिकेट नहीं खेला है और आप इस फॉर्मेट में हमेशा सही क्रिकेट नहीं खेल सकते हैं। लेकिन मुझे लगता है कि जिस तरह से हमने खेला है, हमने फाइनल  में जाने के लिए अधिक से अधिक विकेट लेने की कोशिश की है। और जितना हो सके उतने छक्के मारे हैं और मेरा यही मानना है कि यह मैच जीतने का सबसे अच्छा तरीका भी है।”