टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में स्टीव स्मिथ की ऑस्ट्रेलियाई टीम में भूमिका को लेकर अब शेन वार्न ने दिया यह बयान - क्रिकट्रैकर हिंदी

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में स्टीव स्मिथ की ऑस्ट्रेलियाई टीम में भूमिका को लेकर अब शेन वार्न ने दिया यह बयान

स्टीव स्मिथ ने अभी तक टी-20 वर्ल्ड कप में 32 के औसत से 3 पारियों में सिर्फ 64 रन ही बनाए हैं।

Steve Smith. (Photo Source: Twitter/T20 World Cup)
Steve Smith. (Photo Source: Twitter/T20 World Cup)

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में सुपर-12 मुकाबले खत्म होने के बाद सेमीफाइनल में पहुंचने वाली 4 टीमों के नाम तय हो चुके हैं। जिसमें ग्रुप-1 से इंग्लैंड के अलावा ऑस्ट्रेलियाई टीम पहुंचने में कामयाब रही है। जिस समय इस मेगा इवेंट की शुरुआत होने जा रही थी, तो ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के फॉर्म को लेकर चिंता जरूर जाहिर की गई थी। लेकिन टूर्नामेंट आगे बढ़ने के साथ टीम के प्रमुख खिलाड़ी एकबार फिर से फॉर्म में लौटते हुए दिखाई दिए हैं।

अब ऑस्ट्रेलियाई टीम के प्रदर्शन को देखने के बाद पूर्व दिग्गज लेग स्पिनर शेन वार्न ने स्टीव स्मिथ को लेकर दिए अपने पहले बयान से पलटते हुए उन्हें प्लेइंग इलेवन में मिस्टर फिक्स-इट के तौर पर रखने की सलाह दी है। दरअसल इस टी-20 वर्ल्ड कप में स्मिथ के बल्ले से 32 के औसत से सिर्फ 64 रन देखने को मिले हैं, जिसमें उनका स्ट्राइक रेट 98.46 का रहा है।

शेन वार्न के अनुसार स्मिथ के प्लेइंग इलेवन में मौजूद रहने से बाकी के खिलाड़ियों को खुलकर खेलने का मौका मिल सकता है। क्योंकि यदि टीम शुरुआती समय में अपने विकेट गंवा देती है, तो स्मिथ एक छोर से पूरे 20 ओवरों तक बल्लेबाजी करते हुए टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने का काम कर सकते हैं।

वार्न ने अपने ट्वीट में लिखा कि, अब ऑस्ट्रेलियाई टीम की बल्लेबाजी देखकर कहा जा सकता है कि वह काफी बेहतर दिख रही है और इससे वर्ल्ड जीतने की संभावनाएं भी काफी बढ़ जाती हैं। मैने पहले अपनी एकादश में स्मिथ को शामिल नहीं किया था, लेकिन अब मैं उन्हें मिस्टर फिक्स-इट की भूमिका में रखना पसंद करूंगा जो टीम के जल्दी विकेट गंवाने पर एक छोर से संभालने की जिम्मेदारी निभा सके।

यहां पर देखिए शेन वार्न के ट्वीट

इससे पहले शेन वार्न ने जब ट्वीट किया था, तो उसमें उन्होंने स्टीव स्मिथ को अपनी ऑस्ट्रेलियाई टी-20 टीम में नहीं रखा था। वार्न ने मिचल मार्श को उस मैच में बाहर टीम से बाहर रखने का फैसला पूरी तरह से गलत बताया जबकि मैक्सवेल को पावरप्ले के दौरान बल्लेबाजी से भेजने के फैसले को भी उन्होंने गलत ठहराया था।

ऑस्ट्रेलियाई टीम को सुपर-12 में सिर्फ इंग्लैंड के खिलाफ हुए मैच में हार का सामना करना पड़ा था। हालांकि इसके बावजूद टीम को सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाने के लिए नेट रनरेट पर निर्भर रहना पड़ा, जिसमें वह दक्षिण अफ्रीका से बेहतर साबित हुए। अब टीम की सेमीफाइनल में भिड़ंत ग्रुप-2 की टॉप टीम पाकिस्तान से होगी।