टी-20 वर्ल्ड कप और वनडे वर्ल्ड कप में जमीन और आसमान जितना फर्क है: तमीम इकबाल - क्रिकट्रैकर हिंदी

टी-20 वर्ल्ड कप और वनडे वर्ल्ड कप में जमीन और आसमान जितना फर्क है: तमीम इकबाल

तमीम इकबाल ने बांग्लादेश के लिए 229 वनडे मुकाबले खेले हैं जिनमें उन्होंने 37.06 के औसत से 8005 रन बनाए हैं।

Tamim Iqbal. (Photo Source: Getty Images)
Tamim Iqbal. (Photo Source: Getty Images)

हालिया समय में तमाम प्रशंसकों और पूर्व क्रिकेटरों का मानना रहा है कि टी-20 क्रिकेट के आने से वनडे क्रिकेट धीमें-धीमें मर रहा है। वहीं वनडे क्रिकेट का बचाव करते हुए बांग्लादेश के धाकड़ ओपनर बल्लेबाज तमीम इकबाल का मानना है कि दोनों ही प्रारूपों में काफी फर्क है और वनडे क्रिकेट आज भी सर्वश्रेष्ठ फॉर्मेट है।

बता दें, तमीम इकबाल ने टी-20 क्रिकेट से 17 जुलाई 2022 को संन्यास ले लिया था। इस शानदार बल्लेबाज ने अभी तक बांग्लादेश के लिए 229 वनडे मुकाबले खेले हैं जिनमें उन्होंने 37.06 के औसत से 8005 रन बनाए हैं।

वनडे क्रिकेट बहुत ही महत्वपूर्ण फॉर्मेट है: तमीम इकबाल

तमीम इकबाल ने जिंबाब्वे के खिलाफ तीन मुकाबलों की वनडे सीरीज से पहले पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि, ‘मुझे लगता है कि वनडे एक बहुत ही महत्वपूर्ण फॉर्मेट है। यह बात सिर्फ मैं नहीं कह रहा बल्कि ICC ने भी यह बात कही है। सभी लोग इस फॉर्मेट में मुकाबले देखना चाहते हैं। अगर आप ICC के बड़े टूर्नामेंटों को देखें तो टी-20 वर्ल्ड कप, वनडे वर्ल्ड कप जितना बड़ा नहीं है। यह क्रिकेट का सबसे महत्वपूर्ण फॉर्मेट है।

पिछले साल घुटने में लगी चोट की वजह से तमीम इकबाल ने अपना पूरा ध्यान वनडे और टेस्ट क्रिकेट को दे दिया था और टी-20 क्रिकेट में युवा खिलाड़ियों को मौका देने के लिए अपनी जगह खाली कर दी थी।

जिंबाब्वे के खिलाफ मिली हार के बाद तमीम इकबाल ने कही ये बात

बांग्लादेश का प्रदर्शन वनडे क्रिकेट में पिछले कुछ समय से काफी शानदार रहा है। उन्होंने हाल ही में वेस्टइंडीज को उन्हीं के घर में क्लीन स्वीप किया। हालांकि जिंबाब्वे के खिलाफ तीन मुकाबलों की टी-20 सीरीज में वो 2-1 से हार गए।

जिंबाब्वे के खिलाफ मिली हार के बाद तमीम इकबाल ने आगे कहा कि, ‘अगर हम दोनों टीमों को ध्यान से देखें तो हम लोग उनसे काफी बेहतर है लेकिन क्रिकेट में कभी-कभी किसी खिलाड़ी या टीम का दिन नहीं होता है। जिंबाब्वे ने टी-20 सीरीज इसलिए जीती क्योंकि उन्होंने हमसे अच्छा खेल खेला था।

कुछ ऐसा ही वनडे क्रिकेट में भी देखने को मिलेगा। अगर हमें उनको मात देनी है तो हमें अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलना होगा। वो अपने घर में काफी मजबूत टीम हैं।