गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर भारतीय टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ रीशेड्यूल टेस्ट मैच के तीसरे दिन का खेल किया अपने नाम - क्रिकट्रैकर हिंदी

गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर भारतीय टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ रीशेड्यूल टेस्ट मैच के तीसरे दिन का खेल किया अपने नाम

तीसरे दिन का खेल खत्म होने पर भारतीय टीम ने 257 रनों की बढ़त बना ली थी।

Cheteshwar Pujara. (Photo by GEOFF CADDICK/AFP via Getty Images)
Cheteshwar Pujara. (Photo by GEOFF CADDICK/AFP via Getty Images)

इंग्लैंड और भारत के बीच में एजबेस्टन के मैदान पर खेले जा रहे रीशेड्यूल टेस्ट मैच के तीसरे दिन का खेल समाप्त होने के साथ भारतीय टीम ने अपनी पकड़ को बेहद मजबूत कर लिया था। जिसमें इंग्लैंड की तरफ से जॉनी बेयरस्टो ने जरूर 106 रनों की पारी खेली लेकिन इसके बावजूद उनकी टीम पहली पारी में 284 के स्कोर पर सिमट गई और इससे भारतीय टीम को पहली पारी के आधार पर 132 रनों की अहम बढ़त हासिल हो गई। जिसके बाद दिन का खेल खत्म होने पर टीम इंडिया ने अपनी दूसरी पारी में 3 विकेट के नुकसान पर 125 रन बना लिए थे और बढ़त 257 रनों की हो चुकी थी।

बेयरस्टो ने खेला स्वाभाविक खेल लेकिन स्टोक्स लौटे पवेलियन

तीसरे दिन के खेल के पहले सत्र की शुरुआत होने के साथ शुरुआती आधे घंटे के खेल में भारतीय तेज गेंदबाजों ने जरूर बेन स्टोक्स और जॉनी बेयरस्टो को परेशान किया। लेकिन इसके बाद दोनों ने काफी तेजी के साथ रन बनाने का सिलसिला शुरू किया जिसके चलते अचानक इंग्लैंड टीम का स्कोर काफी तेजी के बढ़ते हुए देखने को मिला। हालांकि बेन स्टोक्स 25 के निजी स्कोर पर शार्दुल ठाकुर की गेंद पर अपना विकेट दे बैठे जिससे इंग्लैंड की टीम को 149 के स्कोर पर 6वां झटका लगा।

यहां से बेयरस्टो ने एक छोर से टीम की रन गति को बनाए रखने का काम किया जिससे स्कोर की गति में बिल्कुल भी धीमापन नहीं देखने को मिला। जिससे बारिश के चलते जब पहले सत्र का खेल रोका गया तो उस समय तक इंग्लैंड की टीम 6 विकेट के नुकसान पर 200 रन बना चुकी थी।

दूसरे सत्र में सिमटी इंग्लैंड की टीम और भारत ने गंवाया पहला विकेट

बारिश थमने के बाद जैसे ही दूसरे सत्र का खेल प्रारम्भ हुआ उसके बाद बेयरस्टो ने अपना शतक पूरा करते हुए इंग्लैंड की टीम को खुशी देने का काम किया। लेकिन 106 के स्कोर पर पहुंचने के साथ बेयरस्टो ने शमी के गेंद पर कोहली को अपना कैच दे बैठे। जिसके बाद इंग्लैंड की पहली पारी को सिमटने में अधिक समय नहीं लगा और टीम 284 के स्कोर पर सिमट गई।

भारतीय टीम की तरफ से पहली पारी में गेंदबाजी में मोहम्मद सिराज ने जहां 4 विकेट अपने नाम किए वहीं कप्तान बुमराह के नाम 3 जबकि शमी ने 2 और शार्दुल ने 1 विकेट अपने नाम किया। पहली पारी में 132 रनों की बढ़त हासिल करने के बाद भारतीय टीम को ओपनिंग जोड़ी से काफी उम्मीद थी, लेकिन दूसरे सत्र का खेल समाप्त होने से पहले टीम ने गिल के रूप में अपना पहला विकेट गंवा दिया जो सिर्फ 4 रन बनाकर आउट हो गए। चायकाल के समय जब खेल को रोका गया तो उस समय भारतीय टीम ने 37 रन 1 विकेट के नुकसान पर बना लिए थे।

भारतीय टीम ने गंवाए 2 विकेट लेकिन पुजारा ने दिखाया धैर्य और जड़ा अर्धशतक

दिन के आखिरी सत्र का खेल दोनों ही टीमों के लिए काफी महत्वपूर्ण साबित होने वाला था, जिसमें भारतीय टीम की नजर अपनी बढ़त को और बढ़ा करने पर थी। वहीं मेजबान इंग्लैंड टीम की कोशिश जल्द से जल्द विकेट लेने पर थी। जिसके बाद हनुमा विहारी के रूप में भारतीय टीम ने अपना दूसरा विकेट 43 के स्कोर पर गंवा दिया जो सिर्फ 11 रन बनाकर स्टुअर्ट ब्रॉड का शिकार बने। वहीं इसके बाद बल्लेबाजी के लिए उतरे विराट कोहली काफी सकारात्मक अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए दिखे। लेकिन बेन स्टोक्स की एक गेंद पर स्लिप में जो रूट ने उनका शानदार कैच लपककर भारतीय टीम को तीसरा झटका 75 के स्कोर के स्कोर पर कोहली के रूप में दिया।

लेकिन इसके बाद चेतेश्वर पुजारा और ऋषभ पंत ने इंग्लैंड की टीम को कोई और सफलता हासिल नहीं करने दी जिससे दिन का खेल खत्म होने पर भारतीय टीम 3 विकेट के नुकसान पर 125 रन बना चुकी थी और उसकी बढ़त 257 रन की हो चुकी थी। चेतेश्वर पुजारा जहां 50 रन बनाकर नाबाद थे वहीं पंत 30 रन बनाकर खेल रहे थे।

यहां पर देखिए तीसरे दिन के खेल के बाद सोशल मीडिया पर सभी ने दी किस तरह से अपनी प्रतिक्रिया: