ऑक्शन में अनसोल्ड रहने से लेकर, प्लेऑफ में शतक लगाने तक, जानिए रजत पाटीदार के बारे में सब कुछ - क्रिकट्रैकर हिंदी

ऑक्शन में अनसोल्ड रहने से लेकर, प्लेऑफ में शतक लगाने तक, जानिए रजत पाटीदार के बारे में सब कुछ

रजत पाटीदार ने एलएसजी के खिलाफ शानदार शतक लगाया।

Rajat Patidar. (Photo Source: IPL/BCCI)
Rajat Patidar. (Photo Source: IPL/BCCI)

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के बल्लेबाज रजत पाटीदार ने लखनऊ सुपर जायंट्स (एलएसजी) के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2022 के एलिमिनेटर मैच के दौरान अपनी टीम के लिए शानदार शतक बनाया। उनके इसी पारी के बदौलत, आरसीबी ने अपने निर्धारित 20 ओवरों में कुल 207 रन बनाए और अंततः 14 रनों से मैच को जीत लिया।

अपनी इस पारी के दौरान, पाटीदार को भाग्य का भी साथ मिला। एलएसजी बल्लेबाज दीपक हुड्डा ने उन्हें लेग स्पिनर रवि बिश्नोई की गेंद पर एक जीवनदान दिया, उस वक्त वो 72 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे। हालांकि उसके बाद पाटीदार ने बिश्नोई की गेंद पर जमकर चौके-छक्के लगाए। कुल मिलाकर, उन्होंने लेग स्पिनर को उस ओवर में तीन छक्के और दो चौके जड़ दिए।

जाहिर बात है जब कोई खिलाडी नॉक आउट जैसे मुकाबलों में इस तरह की पारी खेलता है तो उसको लेकर काफी बातें होती है, ऐसा ही कुछ पाटीदार के साथ भी हुआ। लेकिन कई लोग अभी उनके बारे में बहुत कुछ नहीं जाते हैं।

कौन है ये रजत पाटीदार?

रजत का जन्म एक जून 1993 को मध्य प्रदेश के इंदौर में हुआ था। आठ साल की उम्र में उन्होंने क्लब क्रिकेट खेलना शुरू किया। रजत के दादा ने उन्हें क्रिकेट एकेडमी लेकर गए। एक गेंदबाज के तौर पर क्रिकेट शुरू करने वाले रजत अंडर-15 के दिनों में बल्लेबाज बन गए। कोच ने उन्हें बल्लेबाजी करने की सलाह दी और उनका यह फैसला सही साबित हुआ। सचिन तेंदुलकर को देखकर क्रिकेट शुरू करने वाले रजत को फुटबॉल भी काफी पसंद है।

इस बीच, दाएं हाथ का बल्लेबाज 2021 से आरसीबी टीम का हिस्सा है, लेकिन उसे अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए पर्याप्त मौके नहीं मिले। पाटीदार को आरसीबी कैंप में लौटने के लिए थोड़े से भाग्य की आवश्यकता थी। बता दें कि दाएं हाथ के बल्लेबाज को आईपीएल 2022 मेगा ऑक्शन में किसी ने नहीं खरीदा। बाद में लवनीथ सिसोदिया के चोटिल होने के बाद आरसीबो ने उनकी जगह रजत पाटीदार को अपनी टीम में शामिल किया।

दिलचस्प बात यह है कि यह तेजतर्रार बल्लेबाज सबसे लंबे प्रारूप में अपनी प्रतिभा के लिए जाना जाता है और वह पहले ही प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 39 मुकाबलों में 2500 से अधिक रन बना चुके हैं। प्रतिभाशाली बल्लेबाज पाटीदार ने 43 लिस्ट-ए और 38 टी-20 मैच भी खेले हैं। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने हाल ही में टी-20 में अपने 1000 रन पूरे किए। इस फॉर्मेट में वह 34.42 की औसत औसत और 142.53 की प्रभावशाली स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हैं।