in ,

इन 5 स्टार क्रिकेटरो के बेटे इंटरनेशनल क्रिकेट में धमाल मचा रहे हैं

अर्जुन तेंदुलकर लेफ्ट आर्म फास्ट बॉलर और बेहतरीन बल्लेबाज भी हैं

Samit Dravid
Samit Dravid. (Photo Source: Twitter)

कहते हैं पिता और पुत्र में काफी समानता होती हैं ऐसा ही देखने को मिला क्रिकेट जगत में जहां पिता की राह पर क्रिकेट की दुनिया में उतरे उनके पुत्र भी आज क्रिकेट खेल रहे हैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ऐसे कई उदाहरण है जिसको देखकर इस बात को सत्य प्रतीत करता है कि पिता का जिम्मेवारी पुत्र को उठाना पड़ता है चाहे वह किसी भी क्षेत्र में हो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इन खिलाड़ियों और उनके बेटे ने क्रिकेट में अपना योगदान देकर क्रिकेट इतिहास में अपना नाम दर्ज कराया है आइए जानते हैं इनके बारे में.

1. सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर:

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के बेटे की बात करें तो 18 वर्षीय अर्जुन तेंदुलकर लेफ्ट आर्म फास्ट बॉलर और बेहतरीन बल्लेबाज भी हैं जिन्होंने अब तक कई मैचों में ऐसे प्रदर्शन किए जिसके कारण खेलप्रेमी उनमें उनके पिता को देखते हैं हाल में हुई ब्रैडमैन ओवल में उन्होंने बल्लेबाजी करते हुए 24 गेंदों में 48 रन लगाए और साथ ही 4 विकेट भी झटके थे दूसरी ओर कूच बिहार ट्रॉफी में मुंबई अंडर-19 टीम के लिए खेलते हुए रेलवे की टीम के खिलाफ पांच विकेट लिए थे वही मध्यप्रदेश के खिलाफ 5 विकेट और असम के खिलाफ 4 विकेट झटके थे.

2. शिवनारायण चंद्रपाल के पुत्र तेज नारायण:

क्रिकेट में दो पीढ़ी एक साथ एक मैच में एक ही टीम के लिए खेले यह सोचकर संभव नहीं लगता है क्योंकि अगर पिता और पुत्र हैं तो दोनों के उम्र में काफी अंतर होता है लेकिन वेस्टइंडीज के इस खिलाड़ी ने इसे संभव कर दिखाया है क्रिकेट को अलविदा कह चुके वेस्टइंडीज का यह दिग्गज खिलाड़ी शिवनारायण चंद्रपाल और इनके बेटे तेज नारायण ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में ना ही एक साथ खेला है बल्कि एक ही टीम में खेलते हुए दोनों ने 50-50 रन बनाए हैं. फिलहाल दोनों एक साथ टूर्नामेंट में खेल रहे हैं जहां शिवनारायण चंद्रपॉल की उम्र 43 वर्ष है वही उनके बेटे तेज नारायण की उम्र 21 वर्ष है 2018 में एक मैच में दोनों काफी चर्चा में रहे थे बात दरअसल यह थी कि क्रीज पर पिता और पुत्र खेल रहे थे और शिवनारायण चंद्रपॉल की एक शॉट पर उनके बेटे तेज नारायण रन आउट हो गए थे उसके बाद यह घटना काफी सुर्खियां बटोरी थी.

3. मखाया एंटिनी के बेटे थांडो:
दक्षिण अफ्रीका के अंडर-19 वर्ल्ड कप टीम के थांडो सबसे छोटे सदस्य बल्लेबाज बनना चाहते थे लेकिन वह दाहिने हाथ के तेज गेंदबाज बने. थांडो ने 3 मैच में 3 विकेट लिए. वही पिछले साल इन्होंने वेस्टइंडीज दौरे पर 4 मैच में 7 विकेट लिए और ये पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं.
4. राहुल द्रविड़ के बेटे समित:
राहुल द्रविड़ के बेटे समित अपने पिता की तरह ही एक बल्लेबाज हैं. समित ने अंडर-14 स्कूल क्रिकेट में 150 रनों की शानदार पारी खेलकर सुर्खियों में थे. साल 2016 में अंडर 14 क्रिकेट में उन्होंने 125 रनों की पारी खेलकर लोगों का ध्यान आकृष्ट किया था. समित अंडर 12 क्रिकेट में खेलते हुए 93 रन बनाकर गोपालन क्रिकेट चैलेंज कप में जीत दर्ज कराई थी.
5. स्टिव वां के बेटे आस्टिन:
स्टिव वां के बेटे ऑस्टिन 2018 में अंडर-19 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया के लिए खेले थे. जिसमें उन्होंने 2 पारियां खेली थी एक 6 रन की और दूसरा 26 रन की. वहीं एक मैच में उन्होंने बॉलिंग किया जिसमें उन्होंने 6 ओवर में 64 रन देकर एक विकेट लिया. यह भी अपने पिता की तरह मिडिल ऑर्डर में बैटिंग करते हैं.

BCCI

बीसीसीआई के नए ग्रेड से विराट समेत ये 5 खिलाड़ी होंगे मालामाल

Indian players celebrate a wicket. (Photo Source: Getty Images)

निधास ट्राफी के दूसरे मैच भारत बनाम बांग्लादेश के बीच ये रह सकते हालात