फिल्म 83 में मदनलाल की भूमिका निभा रहे हार्डी संधू, शिखर धवन के साथ इंडिया के लिए खेल चुके हैं - क्रिकट्रैकर हिंदी

फिल्म 83 में मदनलाल की भूमिका निभा रहे हार्डी संधू, शिखर धवन के साथ इंडिया के लिए खेल चुके हैं

फिल्म 83 में मदनलाल की भूमिका में नजर आएंगे हार्डी संधू।

Harrdy Sandhu. (Photo Source: YouTube and Instagram)
Harrdy Sandhu. (Photo Source: YouTube and Instagram)

फिल्म 83 का पहला ट्रेलर देखने के बाद प्रशंसकों के रोंगटे जरूर खड़े हो गए होंगे, क्योंकि ये फिल्म टीम इंडिया के द्वारा 1983 में जीती गई पहली वर्ल्ड कप पर आधारित है। इस फिल्म में रणवीर सिंह मुख्य किरदार की भूमिका में नजर आएंगे, जो भारतीय क्रिकेट के कुछ सबसे बड़े नामों को चित्रित करेंगे। वहीं कबीर खान इस फिल्म के निर्देशक हैं।

इस बीच, इस फिल्म के माध्यम से अपने अभिनय की शुरुआत करने वाले हार्डी संधू, ऑलराउंडर मदन लाल की भूमिका निभाते हुए नजर आएंगे। संधू ने पहले ही म्यूजिक इंडस्ट्री में अपना नाम बना लिया है और इसलिए, प्रशंसक उन्हें बड़े स्क्रीन पर देखने के लिए उत्साहित हैं। इस इंडस्ट्री में हार्डी का सफर बेहद संघर्षपूर्ण रहा, उन्हें प्रसिद्धि पाने के लिए कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा था।

एक चोट की वजह से क्रिकेटर से सिंगर बने हार्डी संधू

दिलचस्प बात यह है कि संधू भारत की अंडर-19 क्रिकेट टीम के लिए खेल चुके थे और यहां तक ​​कि पेशेवर क्रिकेट खेलने की राह पर भी थे। हालांकि, एक साइड-ट्रैक की चोट ने उनके क्रिकेट करियर को रोक दिया और संधू बाद में म्यूजिक की क्षेत्र में चले गए। विशेष रूप से, गायक से अभिनेता बने संधू शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा और इशांत शर्मा के साथ भी खेल चुके हैं, जो अब स्थापित भारतीय क्रिकेटर हैं।

2018 में द टाइम्स ऑफ इंडिया के हवाले से हार्डी संधू ने कहा था कि, “मैंने लगभग 10 साल तक खेला। मैं अंडर-19 क्रिकेट टीम के लिए शिखर धवन के साथ खेल चुका हूं। वह मेरे रूममेट थे और मैं चेतेश्वर पुजारा और इशांत शर्मा के साथ भी खेल चुका हूं। लेकिन 2006 में मुझे कोहनी में चोट लग गई थी। मैं एक तेज गेंदबाज था और चोट मेरे दाहिने हाथ पर थी।”

संधू ने आगे कहा कि, “चोट के बाद वह ऑस्ट्रेलिया चले गए थे, उस समय के दौरान (जब वह ऑस्ट्रेलिया गए थे), आईपीएल शुरू हो गया था और सभी जो मुझसे जूनियर थे, उनका भी चयन हो गया। मुझे वाकई लगा कि मैं आसानी से आईपीएल में खेल सकता था।”