टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में मोहम्मद की आलोचना पर विराट कोहली के बयान पर अब पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री ने दी यह प्रतिक्रिया - क्रिकट्रैकर हिंदी

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में मोहम्मद की आलोचना पर विराट कोहली के बयान पर अब पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री ने दी यह प्रतिक्रिया

रवि शास्त्री ने अपने इस बयान में यह भी कहा कि मोहम्मद शमी पिछले 4 से 5 सालों में टीम काफी अहम सदस्य बन गए हैं।

Mohammad Shami and Ravi Shastri
Mohammad Shami and Ravi Shastri. (Photo Source: Getty Images)

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 समाप्त होने के साथ रवि शास्त्री का भारतीय टीम के मुख्य कोच के तौर पर कार्यकाल भी समाप्त हो गया। मेगा इवेंट के दौरान टीम इंडिया को पहले 2 मुकाबलों में एकतरफा हार का सामना करना पड़ा था। जिसमें पाकिस्तान के खिलाफ 24 अक्टूबर को खेले गए सुपर-12 के पहले मुकाबले में टीम इंडिया को मिली 10 विकेट से एकतरफा हार के बाद सभी खिलाड़ियों को सोशल मीडिया पर काफी आलोचना का सामना करना पड़ा था।

लेकिन इसमें टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को लेकर काफी अपशब्दों का इस्तेमाल किया गया, जिसका सबसे बड़ा उनका पाकिस्तान के खिलाफ मैच में अपनी 3.5 ओवरों की गेंदबाजी में 43 रन खर्च कर देना था। लेकिन इसके बाद विराट कोहली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच से पहले हुई प्रेस वार्ता के दौरान शमी का समर्थन करते हुए कहा था कि वह हमारे प्रमुख खिलाड़ियों में से एक हैं।

अब टीम इंडिया के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री ने भी विराट कोहली के इस बयान की तारीफ करते हुए कहा कि मोहम्मद शमी हमारे सभी फॉर्मेट में बेहद शानदार गेंदबाज हैं, जिन्होंने खासकरके विदेशी जमीन पर टीम को कई मैच अपनी गेंदबाजी के दम पर जिताने का काम किया है।

क्रिकेट एक टीम स्पोर्ट गेम है, यहां पर ऐसी चीजें हो सकती हैं

रवि शास्त्री ने एनडीटीवी से बातचीत करते हुए कहा कि, मैने शमी को लेकर बाहर चल रही बातचीत के बारे में बाद में सुना था जो बेहद ही घटिया किस्म की थी। मेरी नजर में शमी एक चैंपियन खिलाड़ी हैं और वह पिछले 5 सालों से टीम के काफी अहम सदस्य भी। हमने जो भी विदेशी जमीन पर जो भी जीत हासिल की है, उसमें बुमराह, उमेश और इशांत के साथ शमी ने काफी अहम भूमिका अदा की है।

वहीं उन्होंने आगे विराट कोहली का शमी को लेकर बयान पर भी कहा कि, उन्होंने जिस तरह से शमी का बचाव किया वह काबिलेतारीफ है। क्रिकेट एक टीम स्पोर्ट गेम है वहां पर ऐसी चीजें आपको देखने को मिलेंगी। यदि आप पाकिस्तान का सेमी-फाइनल में हार का कारण हसन अली के उस कैच छोड़ने को बतायेंगे तो बिल्कुल भी सही नहीं है क्योंकि ऐसा खेल में होता रहता है।