टी-20 वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान मैच का फैसला इस चीज से तय होगा - क्रिकट्रैकर हिंदी

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान मैच का फैसला इस चीज से तय होगा

24 अक्टूबर को दुबई के मैदान पर भारत और पाकिस्तान की टीम आमने-सामने होंगी।

Virat Kohli and Babar Azam. (Photo Source: Getty Images)
Virat Kohli and Babar Azam. (Photo Source: Getty Images)

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान अपने पहले मैच में 24 अक्टूबर को आमने-सामने होंगे। मैच से पहले ऑस्ट्रेलिया के पूर्व खिलाड़ी और पाकिस्तान के बल्लेबाजी कोच मैथ्यू हेडन का मानना है कि इस हाई वोल्टेज मुकाबले में दोनों टीम के कप्तानों की नेतृत्व क्षमता इसमें बड़ी भूमिका निभाएगी। उन्होंने अपनी बात को समझाने के लिए महेंद्र सिंह धोनी और इयोन मोर्गन का उदाहरण भी दिया।

धोनी और मोर्गन की कप्तानी के किस पहलू पर बोले हेडन?

cricket.com से बातचीत करते हुए मैथ्यू हेडन ने धोनी और मोर्गन के बारे में कहा, “उनका व्यक्तिगत प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं था जितना उनके आंकड़े बताते हैं लेकिन जिस तरह उन्होंने लीग में अपने खिलाड़ियों की अगुवाई की, वह काफी शानदार था। उन्होंने यूएई जैसे हालात में अपनी टीमों को आईपीएल फाइनल में पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। मुझे लगता है कि आगामी मुकाबलों में कप्तानी महत्वपूर्ण होगी क्योंकि यूएई के हालात में गलती की गुंजाइश ना के बराबर होगी और वहां हालात आसान नहीं होंगे।”

बाबर आजम पर होगा अतिरिक्त दबाव- हेडन

बाबर आजम पाकिस्तान के सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ियों में से एक रहे हैं और इस टूर्नामेंट में टीम के लिए उनका योगदान बेहद महत्वपूर्ण होने वाला है। हेडन का मानना है कि पाकिस्तान के कप्तान आजम पर बल्लेबाजी के साथ-साथ टीम की अगुवाई करने का अतिरिक्त दबाव होगा। उन्होंने कहा कि, “कप्तान और बल्लेबाज के रूप में उन पर अधिक दबाव होगा क्योंकि उन्हें निशाना बनाया जाएगा और उनके ऊपर सब लोग हावी होने का प्रयास करेंगे। बाबर को बल्लेबाज और कप्तान की अपनी भूमिका निभानी होगी।”

पिछले कुछ वर्षों से भारतीय क्रिकेट पर करीबी नजर रखने वाले मैथ्यू हेडन का मानना है कि पाकिस्तान के लिए सबसे बड़ा खतरा लोकेश राहुल होंगे। उन्होंने कहा, “मैंने केएल राहुल को आगे बढ़ते हुए देखा है और वह पाकिस्तान के लिए बड़ा खतरा होगा। मैंने उनका संघर्ष और छोटे प्रारूप में उनका दबदबा देखा है।”