ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले ICC टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के शेड्यूल का ऐलान इस दिन कर दिया जाएगा - क्रिकट्रैकर हिंदी

ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले ICC टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के शेड्यूल का ऐलान इस दिन कर दिया जाएगा

साल 2022 में ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले टी-20 वर्ल्ड कप में कुल 45 मैचों का आयोजन किया जाएगा।

T20 World Cup trophy. (Photo: Twitter)
T20 World Cup trophy. (Photo: Twitter)

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने इस साल के आखिर में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के शेड्यूल के ऐलान की तारीख को लेकर खुलासा कर दिया है। जिसमें ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले इस मेगा इवेंट के कार्यक्रम की पूरी रूपरेखा 21 जनवरी को सामने आएगी वहीं मैचों की टिकट बिक्री की शुरुआत 7 फरवरी से शुरू की जाएगी।

साल 2007 में पहला टी-20 वर्ल्ड कप साउथ अफ्रीका में खेला गया था, जिसमें अभी तक कुल 7 बार इस मेगा इवेंट का आयोजन किया जा चुका है। इस साल के आखिर में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप को 16 अक्टूबर से लेकर 13 नवंबर तक खेला जाएगा। जिसमें 7 स्थानों पर कुल 45 मैचों का आयोजन होगा। ऑस्ट्रेलिया के एडिलेड, ब्रिस्बेन, गीलोंग, होबार्ट, मेलबर्न, पर्थ और सिडनी में टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के मैचों का आयोजान होगा।

जिसमें सेमी-फाइनल मुकाबले 9 और 10 नवंबर को सिडनी और एडिलेड के मैदान पर खेले जायेंगे जबकि 13 नवंबर को इस मेगा इवेंट का फाइनल मुकाबला मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में होगा।

यह देश सीधे कर चुके हैं क्वालीफाई

टी-20 वर्ल्ड कप 2022 को लेकर अभी तक अफगानिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, इंग्लैंड, भारत, पाकिस्तान, न्यूजीलैंड और साउथ अफ्रीका जहां सुपप-12 के लिए सीधे क्वालीफाई कर चुकी हैं। वहीं नामीबिया, स्कॉटलैंड, श्रीलंका और वेस्टइंडीज को मुख्य ड्रॉ के लिए क्वालीफाई करने वाली टीमों के साथ पहले मुकाबले खेलने होंगे।

इस इवेंट के प्रमुख क्रिस टेटली ने कहा कि, हम ICC इवेंट के ऑस्ट्रेलिया में वापसी को लेकर काफी खुशी व्यक्त कर रहे है, जिसमें मैचों का आयोजन 7 शहरों में किया जाएगा। महिला टी-20 वर्ल्ड कप की सफलता को देखते हुए हमारी कोशिश होगी कि 2 साल के आगे बढ़ाए गए इवेंट को भी सफल तरीके से आयोजन कराने पर होगी।

बता दें कि टी-20 वर्ल्ड कप का 7वां संस्करण यूएई और ओमान में खेला गया था, जिसके फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने न्यूजीलैंड को एकतरफा तरीके से मात देते हुए खिताब को पहली बार अपने नाम किया था। जिसके बाद अब अपनी मेजबानी में खेलने जा रही ऑस्ट्रेलियाई टीम की कोशिश इसे बरकरार रखने पर होगी।