IPL खेलकर जोश हेजलवुड बने ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे बड़े मैच विनर - क्रिकट्रैकर हिंदी

IPL खेलकर जोश हेजलवुड बने ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे बड़े मैच विनर

जोश हेजलवुड ने टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में सात मैचों में 11 विकेट चटकाए थे।

Josh Hazelwood
Josh Hazelwood. (Photo by James Elsby/Getty Images)

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरोन फिंच ने कहा है कि जोश हेजलवुड का IPL का अनुभव ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए इस टूर्नामेंट में काफी फायदेमंद रहा। टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में मिचल स्टार्क और पैट कमिंस के साथ जोश हेजलवुड ऑस्ट्रेलिया के प्रमुख तेज गेंदबाजों में से एक रहे। दाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज ने 7.29 की इकॉनमी रेट से सात मैचों में 11 विकेट लिए।

हेजलवुड यूएई में CSK के लिए खेले थे और इस टी-20 वर्ल्ड कप के शुरू होने से पहले यूएई में खेलने की परिस्थितियों को अच्छे से समझ गए थे। महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते हुए हेजलवुड ने नौ मैचों में 11 विकेट लिए थे।

हेजलवुड का IPL खेलना हमारे लिए काफी फायदेमंद रहा: एरोन फिंच

फाइनल मैच में न्यूजीलैंड को हराने के बाद फिंच ने कहा कि हेजलवुड ने IPL में बेहतरीन प्रदर्शन किया और इसी वजह से उन्हें केन रिचर्डसन की जगह टीम में शामिल किया गया। स्पोर्ट्सकीड़ा से बातचीत के दौरान फिंच ने कहा, हेजलवुड हमारी गेंदबाजी के लिए काफी अहम थे। CSK के लिए खेलते हुए उन्होंने जो अनुभव हासिल किया था, वो हमारे काफी काम आया। किस लेंथ पर गेंदबाजी करनी है और हार्ड लेंथ कब होगी, ये उन्होंने अच्छी तरह से बताया।”

उन्होंने आगे कहा कि, “टूर्नामेंट के आखिर में आकर उन्होंने जो अपना अनुभव साझा किया वो काफी काम आया। उन्होंने जो सभी गेंदबाजों को जानकारी दी वो काफी महत्वपूर्ण था। ईमानदारी से कहूं तो आईपीएल में उनके प्रदर्शन ने हमें उन्हें टीम में केन रिचर्डसन की जगह शामिल करने के लिए मजबूर किया। वो एक बेहतरीन टी-20 गेंदबाज है। उनके चयन करना हमारे लिए भी एक कठिन काम था।”

आपको बता दें कि ऑस्ट्रेलिया ने टी-20 वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम कर लिया है। दुबई में खेले गए फाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड को हराकर उन्होंने ये बड़ी उपलब्धि हासिल की। इसके साथ ही कंगारू टीम ने क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप का खिताब भी जीत ही लिया।