लोकेश राहुल ने शानदार पारी खेलने का श्रेय इस दिग्गज खिलाड़ी को दिया - क्रिकट्रैकर हिंदी

लोकेश राहुल ने शानदार पारी खेलने का श्रेय इस दिग्गज खिलाड़ी को दिया

KL Rahul
KL Rahul celebrates his fifty. (Photo Source: Twitter)

इंडियन प्रीमियर लीग के 11 वें सीजन में रविवार के दिन दूसरा मैच किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली डेयरडेविल्स के बीच में खेला गया जिसमे किंग्स इलेवन पंजाब ने दिल्ली की टीम को 6 विकेट से हराकर इस आईपीएल सीजन की शानदार शुरुआत की अब पंजाब की टीम को अपना अगला मैच रॉयल चेलेंजर्स के खिलाफ बेंगलुरु में खेलना है शुक्रवार को.

किंग्स इलेवन पंजाब की इस जीत में सबसे अधिक किसी ने योगदान देने का काम किया तो वह लोकेश राहुल थे जिन्होंने इस मैच को दिल्ली के लिए पहले 3 ओवर में ही खत्म कर दिया था जब राहुल ने इस मैच में आईपीएल के अब तक के इतिहास में सबसे तेज़ अर्धशतक जड़ दिया जिसमे उन्होंने सिर्फ 14 गेंदों में इस कारनामे को कर दिया और यूसुफ पठान के रिकॉर्ड को तोड़ने का काम किया.

अपनी पारी का श्रेय इन्हें दिया राहुल ने

जब से राहुल ने दिल्ली के खिलाफ इस तरह कि पारी खेली है उसके बाद से हर जगह सिर्फ उन्ही उन्हीं की बात हो रही है और और होनी भी चाहिए क्योंकि किंग्स इलेवन पंजाब ने इस बार उन्हें लेने के लिए 11 करोड़ रूपये तक खर्च कर दिए थे और पहले ही मैच में राहुल ने इस बात को बता दिया की टीम ने कहीं गलत पैसे खर्च नहीं किये है.

अपनी इस पारी के बाद लोकेश राहुल ने इस शानदार पारी का श्रेय क्रिस गेल दिया क्योंकि पिछले काफी समय से आईपीएल में ये दोनों ही खिलाड़ी एक ही टीम में रहें है और इस बार भी भी दोनों एक ही टीम में है. राहुल ने इस बारे में अधिक बोलते हुए कहा कि “मैंने पिछले कुछ सालों में गेल के साथ बल्लेबाज़ी करते हुए इस बात को महसूस किया है कि और मैंने इस बात पर गेल से पूछा भी कि पिछले कुछ सालों में कि किस तरह से अपनी पारी को गति देने का काम किया जा सकता है और उसने हमेशा कहा है कि पहले आप सही स्थिति में आ जाओ उसके बाद आपकी बॉडी अपने आप चलने लगती है और मैंने इसी चीज़ को अपनाया और मुझे इस बात की ख़ुशी है कि आज ऐसा मैं कर सका.”

वहीँ अपनी इस पारी के बारे में और अधिक बोलते हुए कहा कि “मैंने इस पारी के लिए कुछ भी योजना नहीं बनायीं थी, लेकिन जब पहली बॉल पर ट्रेंट की गेंद बिल्कुल भी स्विंग नहीं हुयीं तो मुझे इस बात का पता च गया था कि गेंद सीधे आएगी और इसीलिए मैंने शॉट को सीधे ही मार दिया मुझे इस बात का पता था कि गेंद पुरानी होने के बाद बल्ले पर अच्छी तरह से नहीं आयेगी जिस कारण मैं नईं गेंद का अधिक से अधिक लाभ उठाना चाहता था.