श्रेयस अय्यर की बल्लेबाजी की असली परीक्षा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज के दौरान होगी - सौरव गांगुली - क्रिकट्रैकर हिंदी

श्रेयस अय्यर की बल्लेबाजी की असली परीक्षा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज के दौरान होगी – सौरव गांगुली

गांगुली के अनुसार श्रेयस अय्यर का घरेलू क्रिकेट में पिछले एक दशक से औसत 50 से अधिक का देखने को मिला है, जिसको बरकरार रख पाना किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान काम नहीं है।

Shreyas Iyer. (Photo Source: BCCI)
Shreyas Iyer. (Photo Source: BCCI)

भारतीय टीम इस समय दक्षिण अफ्रीका में 3 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने के लिए वहां पहुंच गई है। जिसमें टीम के साथ युवा खिलाड़ी श्रेयस अय्यर भी पहुंचे हैं। जिन्होंने अपने टेस्ट करियर का आगाज काफी शानदार तरीके से करते हुए न्यूजीलैंड के खिलाफ कानपुर के ग्रीन पार्क मैदान पर अपने करियर की पहली पारी में शतक जड़ दिया था। जिसके बाद दूसरी पारी में भी अय्यर ने 65 रन बनाते हुए टीम को एक मजबूत स्थिति में पहुंचाने का काम किया था।

जिसके बाद उनके इस प्रदर्शन को देखने के बाद दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए घोषित हुई 3 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए भी श्रेयस अय्यर को टीम में बरकरार रखा गया है। वहीं भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) अध्यक्ष सौरव गांगुली ने श्रेयस अय्यर की उनके करियर की पहली टेस्ट सीरीज में शानदार प्रदर्शन को लेकर तारीफ भी की है।

BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुल ने श्रेयस अय्यर को लेकर बात करते हुए कहा कि पिछले एक दशक से प्रथम श्रेणी क्रिकेट में लगातार 50 से अधिक के औसत से रन बनाना एक असाधारण काम है। जिसको लेकर गांगुली ने यह भी कहा कि ऐसे खिलाड़ियों को राष्ट्रीय टीम में खुद को साबित करने का मौका जरूर दिया जाना चाहिए।

सौरव गांगुली ने बोरिया मजूमदार के शो बैकस्टेज में कहा कि, मेरे अनुसाल पिछले काफी समय से उसका प्रथम श्रेणी क्रिकेट में औसत 50 से अधिक का है। वहीं पिछले 10 सालों से वह 52 के औसत से लगातार रन बना रहा है। एक समय आपको अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक मौके की तलाश होती है।

मुझे उम्मीद है कि दक्षिण अफ्रीका में भी अय्यर बेहतर प्रदर्शन करेंगे

वहीं सौरव गांगुली ने अपने बयान में आगे यह भी कहा कि श्रेयस अय्यर का टेस्ट क्रिकेट में असली इम्तिहान विदेशी दौरों पर होगा, जिसमें उनकी पहली परीक्षा आगामी दक्षिण अफ्रीका दौरे पर देखने को मिलेगी। जहां की विकेट तेज गेंदबाजी के लिए मुफीद होने के साथ वहां पर काफी गति और बाउंस भी देखने को मिलेगा।

लेकिन मुझे उम्मीद है कि अय्यर इस परीक्षा के लिए पूरी तरह से तैयार होंगे और बेहतर प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे। भारतीय टीम को दक्षिण अफ्रीका दौरे पर अपना पहला टेस्ट मैच 26 दिसंबर से सेंचुरियन के मैदान में खेलना है।