IPL 2022: सुरेश रैना ने आखिर बता ही दिया कि ये चार खिलाड़ी धोनी के बाद चेन्नई सुपर किंग्स को आगे ले जा सकते हैं - क्रिकट्रैकर हिंदी

IPL 2022: सुरेश रैना ने आखिर बता ही दिया कि ये चार खिलाड़ी धोनी के बाद चेन्नई सुपर किंग्स को आगे ले जा सकते हैं

IPL 2022 के सीजन में सुरेश रैना हाथ में माइक थामे एक नई भूमिका में नजर आने वाले हैं।

MS Dhoni, Suresh Raina and Ravindra Jadeja
MS Dhoni, Suresh Raina and Ravindra Jadeja. (Photo Source: Twitter)

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में मुंबई इंडियंस (MI) के बाद चेन्नई सुपर किंग्स CSK) सबसे सफल टीम मानी जाती है। CSK की कमान शुरू से ही महेंद्र सिंह धोनी के हाथों में रही है। धोनी को सबसे महान कप्तानों में से एक माना जाता है और लंबे समय तक बतौर कप्तान भारतीय टीम के लिए अहम भूमिका निभाई। इतना ही उन्होंने IPL में अपने नेतृत्व में CSK को चार बार खिताबी जीत भी दिलाई है।

धोनी की कप्तानी में चेन्नई ने 12 सीजन में से 11 सीजन में प्ले ऑफ में जगह बनाई है और यही वजह है अभी तक फ्रेंचाइजी ने धोनी के अलावा किसी को कप्तान के रूप में नहीं देखा है। लेकिन यह सीजन धोनी का आखिरी सीजन होने की संभावना जताई जा रही है। इसलिए सभी के मन में यह सवाल होगा कि धोनी के बाद टीम की कमान किस खिलाड़ी के हाथों में सौंपी जाएगी।

इस बीच धोनी के करीबी सुरेश रैना से भी इस सवाल का जिक्र किया गया तो रैना ने इसका जवाब काफी सोच समझ के दिया है। आपको बता दें, कि बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना ने भी CSK के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। लेकिन फरवरी 2022 में आयोजित मेगा नीलामी में इस शानदार बल्लेबाज पर CSK ने बोली नहीं लगाई और वह इस सीजन में अनसोल्ड रहे। हालांकि इस सीजन में वह हिंदी कमेंटेटरों के साथ माइक थामे नजर आएंगे।

“मुझे लगता है कि जडेजा के पास क्रिकेट का अच्छा दिमाग है”- सुरेश रैना

स्टार स्पोर्ट्स द्वारा आयोजित एक वेबिनार में भविष्य में CSK के कप्तानों के बारे में रैना ने कहा “आपके पास अंबाती रायडू और रॉबिन उथप्पा भी हैं। उसके बाद आपके पास अनुभवी डीजे ब्रावो भी हैं, इसके अलावा मुझे लगता है रवींद्र जडेजा के पास क्रिकेट का अच्छा दिमाग है और उन्होंने हाल ही में शानदार प्रदर्शन भी किया है।”

सुरेश रैना ने अपने अनुसार चार नामों का खुलासा किया है जिसमें रवींद्र जडेजा को उन्होंने उम्र के मुताबकि ज्यादा महत्व दिया है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि रायडू और उथप्पा दोनों 36 वर्ष के हैं जबकि ब्रावो 38 वर्ष के हैं। वहीं जडेजा अभी केवल 33 साल के हैं इसलिए वह लंबे समय तक एक कप्तान के रूप में टिक सकते हैं। CSK ने इस सीजन में जडेजा को 16 करोड़ रुपए में रिटेन किया था।

कमेंट्री में पदार्पण करने के बारे में उन्होंने कहा “मैं कमेंट्री के लिए पूरी तरह से तैयार हूं, वहां मेरे कुछ दोस्त साथ होंगे जैसे हरभजन सिंह, पीयूष चावला और इरफान पठान पहले से कमेंट्री कर रहे हैं। इनके अलावा इस सीजन में हमारे साथ रवि शास्त्री भी होंगे। इसलिए मुझे लगता है कि यह मेरे लिए आसान होगा। मैं अपने दोस्तों से सीख सकता हूं और इस भूमिका को लेकर मैं बहुत खुश हूं।”