पटना में खुलेगा विश्वस्तरीय क्रिकेट एकेडमी, धोनी ने ऊर्जा स्टेडियम से किया करार - क्रिकट्रैकर हिंदी

पटना में खुलेगा विश्वस्तरीय क्रिकेट एकेडमी, धोनी ने ऊर्जा स्टेडियम से किया करार

MS Dhoni Academy
MS Dhoni Cricket Academy. (Photo Source: Twitter)
भारतीय क्रिकेट टीम के महान खिलाड़ी कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी पटना को एक नई सौगात देने जा रहे हैं. भारतीय क्रिकेट टीम को शिखर तक पहुंचाने वाले माही पटना में अंतरराष्ट्रीय स्तर का क्रिकेट अकादमी खोलने जा रहे हैं. पटना के पटेल नगर रोड में स्थित ऊर्जा स्टेडियम से एकेडमिक खोलने की करार हो चुकी है. जो कि अगले माह अप्रैल के दूसरे सप्ताह तक शुरू कर दिया जाएगा और तब चयन प्रक्रिया भी प्रारंभ हो जाएगा.
आर्का स्पोर्ट्स मैनेजमेंट लिमिटेड के प्रबंधक मिहिर दिवाकर जो कि महेंद्र सिंह धोनी के क्रिकेटर मित्र हैं. उन्होंने बताया कि कलसी बिल्डकॉन प्राइवेट लिमिटेड के साथ एकेडमी की करार की प्रक्रिया लखनऊ में पूरी की जा चुकी है. जहां उन्होंने पटना के फैंस के लिए एक बड़ी खबर भी दि. उन्होंने बताया कि महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल खत्म होने के बाद पटना आएंगे. वही मिहिर दिवाकर ने बताया की वो गुरुवार को पटना आ रहे हैं. ताकि एकेडमी की बाकी प्रक्रियाओं को पूरी की जा सके.
देश-विदेश मिलाकर धोनी ने अब तक तकरीबन 7 विश्वस्तरीय एकेडमी खोल चुके हैं. इनमें से कुछ अभी भी प्रक्रियाधीन है. और पटना में शुरू की जा रही धोनी कि यह विश्वस्तरीय एकेडमी इस श्रृंखला में आठवीं है. 11 नवंबर को दुबई में पहली अकेडमी खुली थी और सिंगापुर में दूसरी एकेडमी. जिसके बाद अब दिल्ली, बनारस, बोकारो, लखनऊ और बरेली में भी एकेडमी की प्रक्रिया चल रही है.
सभी एकेडमी अंतरराष्ट्रीय स्तर की होगी और जहां तक उन्होंने बताया कि पटना के अकेडमी में 150 प्रशिक्षु ही प्रशिक्षण ले पाएंगे. इसका चयन ट्रायल आधारित होगा जहां तक फीस का निर्धारण का सवाल है उस पर अब तक यही पता चल पाया है कि प्रशिक्षण के फीस पटना के आधारित होगी ताकि पटना में रहने वाले बिहार के सभी शहर और सभी तबके के बच्चों तक इसका लाभ पहुंच सके.
वही मिहिर दिवाकर ने बताया कि एकेडमी खोलना महेंद्र सिंह धोनी की व्यवसायिक एक मकसद नहीं है क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी को बहुत कुछ दिया है बड़ा नाम दिया है बड़ी पहचान दी है बड़ा आयाम दिया है. अब महेंद्र सिंह धोनी क्रिकेट को कुछ देना चाहते हैं यही वजह रही है की कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी ने अंतरराष्ट्रीय स्तर के एकेडमी की शुरुआत की है. जिससे कि संन्यास लेने के बाद धोनी क्रिकेट का भविष्य इस एकेडमी में तैयार कर सकें. धोनी का मकसद है कि वह बच्चों को क्रिकेट की हर बारिकियों का प्रशिक्षण के साथ-साथ उन्हें इन बारीकियों के साथ चैंपियन कैसे बना जाता है यह सिखाना ही धोनी का एकमात्र मकसद है.
जहां तक बिहार के बच्चों का सवाल है तो क्रिकेट के दुनिया में शायद वर्षों से कोई नाम ना हो वर्षों से बिहार के बच्चों को इस क्षेत्र में कोई मौका नहीं मिला है. धोनी ने बिहार में यह एकेडमी खोलकर बिहार के बच्चों को एक स्वर्णिम मौका प्रदान कर रहे हैं. जिससे कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिकेट जगत में बिहार के बच्चों को मौका मिले और अपना नाम बना सकें.